संस्थान की स्थापना का प्रमुख लक्ष्य अन्य संस्थाओं की तरह आर्थिक लाभ कमाना न होकर ग्रामीण एवं होनहार युवाओं को सही मार्गदर्शन प्रदान कर देश के विकास में उनकी भूमिका सुनिश्चित करना है।